Home हांसी आस पास

हांसी आस पास

नवंबर तक दिए जाएंगे 9 हजार ट्यूबवेल कनेक्शन : रणजीत सिंह

ऊर्जा एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह में सुनीं जन समस्याएं

समस्याओं के समाधान के लिए मौके पर ही दिए अधिकारियों को दिशा-निर्देश

सिटी फर्स्ट न्यूज़ ,हिसार: 

हरियाणा के ऊर्जा एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने कहा कि नवंबर माह तक प्रदेश के कृषि क्षेत्र को 9 हजार टï्यूबवेल कनेक्शन जारी किए जाएंगे। बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए प्रदेश के चार जिलों में स्मार्ट मीटरों की स्थापना का कार्य किया गया है और जेल में सुरक्षा व्यवस्था व प्रशासनिक ढांचे में सुधार किए गए हैं।

ऊर्जा एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने यह बात आज पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही। इससे पूर्व उन्होंने विश्राम गृह परिसर में जिला के लोगों की समस्याएं सुनीं और उनके जल्द समाधान के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान उनके सामने लगभग 300 शिकायतें रखी गईं जिनमें बिजली विभाग सहित अन्य विभागों की समस्याएं भी शामिल थीं।

श्री चौटाला ने कहा कि प्रदेश में किसानों की ओर से लगभग 9 हजार ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए आवेदन किए गए थे जिनमें से 4868 सबमर्सिबल कनेक्शन दे दिए गए हैं। अब थी्र स्टार मोटर्स के साथ 4200 नए ट्यूबवेल कनेक्शन दिए जाएंगे। यह कार्य नवंबर माह तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद आवेदन के लिए पोर्टल खोल दिया जाएगा जिससे किसानों को मांग के आधार पर कनेक्शन दिए जा सकें।

उन्होंने कहा कि बिजली व्ववस्था में सुधार के कदम उठाए जा रहे हैं। प्रदेश में जहां लाइनलोस 30 प्रतिशत से अधिक था वहीं अब लाइनलोस 14 प्रतिशत कम यानी 17.4 प्रतिशत है। एक प्रतिशत लाइनलोस कम होने से सीधी 150 करोड़ रुपये की बचत होती है। उन्होंने कहा कि 33 हजार करोड़ रुपये घाटे वाला बिजली निगम आज 450 करोड़ रुपये मुनाफे में है। इसी प्रकार प्रदेश की जेलों में सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत किया गया है। जेल के स्टाफ व बंदियों को कोरोना वायरस से बचाने में भी हम सफल हुए हैं। उन्होंने कोरोना से बचाव के लिए आमजन को जागरूक करने में मीडिया की भूमिका की भी सराहना की।

पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि बरौदा उपचुनाव भाजपा ही जीतेगी, क्योंकि हलका की जनता विकास चाहती है। उन्होंने कहा कि बरौदा का उपचुनाव जींद के उपचुनाव का इतिहास दोहराएगा। मैं स्वयं बरौदा हलके के 14 गांवों में जाकर आया हूं और वहां के लोग भाजपा के प्रत्याशी को विजयी बनाने का मन बना चुके हैं।

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कोई भी गैरतमंद व्यक्ति कांग्रेस में नहीं रह सकता है। कांग्रेस का इतिहास देखें तो बड़े-बड़े नेताओं ने इस पार्टी से किनारा कर लिया है। पीटीआई अध्यापकों द्वारा दिए जा रहे धरने के संबंध में उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अनुपालना कर रही है। उन्होंने कहा कि मैंने व्यक्तिगत प्रयास करके हटाए गए पीटीआई शिक्षकों की पिछले डेढ़ महीने में 2 बार मुख्यमंत्री से मीटिंग करवाई है।

इस अवसर पर एसडीएम राजेंद्र सिंह, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधीक्षक अभियंता राजेंद्र सिंह सभ्रवाल, संदीप यादव, एक्सईएन जीतराम, सतीश कुमार, अक्षय ऊर्जा विभाग के परियोजना निदेशक इंद्राज सिंह, सरपंच दीपचंद, पूर्व पार्षद पवन शर्मा, संजय कुंडू, सतबीर पेटवाड़ व बंटी सहरावत सहित बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कोरोना टेस्ट रिपोर्ट लेने के लिए अब अस्पताल जाने की जरूरत नहीं

उपायुक्त के निर्देशों पर एनआईसी ने दी आमजन को सुविधा, घर बैठे हिसार की वेबसाइट पर उपलब्ध है टेस्ट रिपोर्ट
अगले हफ्ते एसएमएस माध्यम से मोबाइल पर ही मिल सकेगी टेस्ट की रिपोर्ट
सिटी फर्स्ट न्यूज़, हिसार :
जिला में कोविड प्रबंधन की दिशा में एक नई पहल की गई है। उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी के निर्देश पर एनआईसी ने कोरोना की टेस्ट रिपोर्ट को हिसार जिला की वेबसाइट https://hisar.gov.in/ पर उपलब्ध करवाना शुरू कर दिया है। इसके चलते अब कोरोना टेस्ट करवाने वालों को अपनी रिपोर्ट लेने के लिए नागरिक अस्पताल नहीं जाना पड़ेगा। अगले सप्ताह से प्रशासन द्वारा मोबाइल पर एसएमएस के माध्यम से भी कोविड टेस्ट की रिपोर्ट भिजवाने की व्यवस्था की जा रही है।
उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने बताया कि आमजन की सुविधा तथा कोरोना के संक्रमण पर रोक के लिए यह व्यवस्था की गई है कि अब कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट जिलावासियों को घर बैठे उपलब्ध होगी। अभी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए जिलावासियों को नागरिक अस्पताल के चक्कर लगाने पड़ते थे। इससे नागरिक अस्पताल में लोगों की भीड़ बढ़ जाती थी और दूसरों को उनसे अथवा उनसे दूसरों को संक्रमण का खतरा बना रहता था। लेकिन अब कोरोना टेस्ट करवाने वाले व्यक्ति अपनी रिपोर्ट घर बैठे जिला की वेबसाइट हिसार डॉट जीओवी डॉट इन पर उपलब्ध लिंक पर क्लिक करके प्राप्त कर सकते हैं।
उपायुक्त ने बताया कि टेस्ट करवाने वाले व्यक्ति को वेबसाइट पर दिए गए लिंक पर क्लिक करके सैंपल कलेक्शन की तारीख व मोबाइल नंबर की एन्ट्री करनी होगी। इसके बाद उसके मोबाइल पर ओटीपी आएगा जिसे भरने के बाद टेस्ट की रिपोर्ट देखी जा सकेगी। उन्होंने बताया कि इस प्रयोग को सफल बनाने में एनआईसी की हिसार यूनिट ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसके लिए उन्होंने एनआईसी के वरिष्ठï तकनीकी निदेशक एमपी कुलश्रेष्ठï व उनकी टीम की सराहना की है।
एनआईसी के वरिष्ठï तकनीकी निदेशक एमपी कुलश्रेष्ठï ने बताया कि वेबसाइट पर कोविड टेस्ट की रिपोर्ट उपलब्ध करवाने का सफल प्रयोग करने वाला हिसार संभवत: पहला जिला है। इसका सफल डेमोस्ट्रेशन कल उपायुक्त आवास पर सिविल सर्जन डॉ. रत्ना भारती, डॉ. जया गोयल, डीआईओ, एडीआईओ अखिलेख कुमार की मौजूदगी में किया गया। इसके पश्चात एनआईसी द्वारा अगले एक सप्ताह के भीतर एसएमएस के माध्यम से कोरोना टेस्ट करवाने वाले व्यक्ति तक उसकी रिपोर्ट मोबाइल पर भिजवाने की व्यवस्था की जा रही है।

डॉ. प्रियंका सोनी ने हिसार जिले के 10वीं-12वीं के चमकते सितारों को किया सम्मानित

सिटी फर्स्ट न्यूज़, हिसार :

उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि हम सबको जीवन में हर वक्त कुछ नया सीखने की ललक मन में रखनी चाहिए, क्योंकि सीखने की कोई उम्र नहीं होती और जिसके मन में यह ललक होती है उसे कामयाब होने से कोई रोक नहीं सकता है। उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने यह बात आज लघु सचिवालय स्थित जिला सभागार में जिला के उन 13 प्रतिभाशाली बच्चों को सम्मानित करते हुए कही जिन्होंने 10वीं व 12वीं कक्षा में जिला व प्रदेश स्तर पर टॉप किया है, इनमें 12 लड़कियां शामिल हैं। उपायुक्त ने इन बच्चों को उपहार देकर सम्मानित किया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।उपायुक्त ने सम्मानित होने वाले बच्चों को जिला के चमकते सितारे बताते हुए कहा कि आप सभी में विलक्षण प्रतिभा है जिसके चलते आपने प्रदेश स्तर पर अपनी पहचान बनाई है। लेकिन आपको यहीं रुकना नहीं है बल्कि निरंतर मेहनत करने और नई चीज सीखने की ललक बनाए रखनी है। उन्होंने बच्चों से जीवन का लक्ष्य निर्धारित करने और उसे प्राप्त करने के लिए निरंतर मेहनत करने का आह्वïान किया। उन्होंने कहा कि बच्चे पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद व हॉबी विकसित करने में भी दिलचस्पी लें। यह उन्हें तनाव व थकान से मुक्त करने में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए माता-पिता व शिक्षकों का मार्गदर्शन जरूरी है। उनका अनुभव व दुनियादारी का ज्ञान मंजिल प्राप्त करने में उनका सहायक बनता है। उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले समय में ये बच्चे हिसार व हरियाणा का नाम भारतवर्ष व दुनिया में रोशन करेंगे।उपायुक्त ने कहा कि जीवन के किसी मोड़ पर यदि असफलता भी मिले तो यह न सोचें कि सबकुछ खत्म हो गया है बल्कि यह मानें कि सफलता प्राप्त करने से एक कदम पीछे हैं। उन्होंने विद्यार्थियों को जीवन में आने वाले अवसरों को पहचानने, उन्हें पकडऩे और उनका सदुपयोग करने का आह्वïान किया। उन्होंने कहा कि जीवन में अच्छे संस्कार भी हासिल करें ताकि विश्व में जहां भी काम करें वहां भारत का नाम रोशन हो। उपायुक्त ने इस गौरवशाली उपलब्धि के लिए शिक्षा विभाग, अभिभावकों व जिला के शिक्षकों को बधाई देते हुए उनके द्वारा की गई मेहनत की सराहना की।इन बच्चों को किया सम्मानित :इस दौरान उपायुक्त ने नारनौंद के टैगोर सीनियर सैकेंडरी स्कूल की दसवीं कक्षा में प्रदेश में टॉप करने वाली रिषिता (100 प्रतिशत), प्रदेश स्तर पर द्वितीय स्थान हासिल करने वाली उमा (99.8 प्रतिशत), कल्पना (99.8 प्रतिशत), स्नेह (99.8 प्रतिशत) व जीएनजेएन गोयंका गल्र्स हाई स्कूल की निकिता मारुति सावंत (99.8 प्रतिशत) को सम्मानित किया। उन्होंने 12वीं कक्षा में कला सकांय में प्रदेश स्तर पर द्वितीय व जिला स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली गांव चमारखेड़ा स्थित रावमा विद्यालय की मोनिका (99.4 प्रतिशत) को, कला सकांय में ही नारनौंद के उपासना सीनियर सैकेंडरी स्कूल की सुमन (98.6 प्रतिशत) व गांव चमारखेड़ा के रावमा विद्यालय की अंकिता (98.6 प्रतिशत) को भी सम्मानित किया।इनके अलावा उपायुक्त ने 12वीं के वाणिज्य सकांय में राज्य स्तर पर द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली पीजीएसडी सीनियर सैकेंडरी स्कूल की छात्रा अंशु (99.2 प्रतिशत) तथा इसी स्कूल की करिश्मा (98.80 प्रतिशत) व हॉली चाइल्ड सीनियर सैकेंडरी स्कूल की वंदना (98.80 प्रतिशत) को  सम्मानित किया। उपायुक्त ने 12वीं के विज्ञान सकांय में हॉली चाइल्ड सीनियर सैकेंडरी स्कूल की संजना (98.2 प्रतिशत) व पीजीएसडी सीनियर सैकेंडरी स्कूल की मोनिका (98 प्रतिशत) को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर डीईओ अनिल शर्मा, डीईईओ धनपत राम, डिप्टी डीईओ चंद्रकलां, बीईओ कुलभूषण शर्मा, कृष्ण वर्मा, अमनदीप, जिला विज्ञान विशेषज्ञ पूर्णिमा गुप्ता, जिला गणित विशेषज्ञ जगदीश, विभिन्न स्कूलों के प्रधानाचार्य, शिक्षक व बच्चों के अभिभावक भी उपस्थित थे।

डा. रंजीत सिंह सैनी बने सेवा भारती के जिला अध्यक्ष

सिटी फर्स्ट न्यूज़ ,हांसी :

सेवा भारती हरियाणा प्रदेश शाखा हांसी की बेठक कमल सर्राफ हिसार विभाग प्रमुख की अध्यक्षता मे श्री राम धर्मशाला जगदीश कॉलोनी हांसी मे सम्पन हुई। जिसमे हांसी जिला की कार्यकारिणी व हांसी नगर की कार्यकारिणी का गठन किया गया! जिसमे सर्वसम्मति से डा. रंजीत सिंह सैनी को हांसी जिला अध्यक्ष का दायित्व दिया गया। प्रेम कुमार चुघ को हांसी जिला उपाध्यक्ष का दायित्व दिया गया व कुलवंत सिंह को हांसी जिला सचिव का दायित्व दिया गया जो इन सभी ने सहर्ष स्वीकार किया।
हांसी नगर के लिय प्यारेलाल सैनी को हांसी नगर अध्यक्ष का दायित्व दिया गया, कश्मीरी लाल मनचन्दा को नगर सचिव व राधेश्याम वधवा को हांसी नगर का कैशियर का दायित्व दिया गया। ऋषि सिंगला, रामअवतार, विजयपाल, दिवान चंद, ओम प्रकाश मजोका, प्रविण सिंगला, सन्दीप गोयल व प्रताप को सेवा भारती हांसी का सदस्य बनाया गया! इस अवसर पर कमल सराफ ने सेवा भारती के कार्य व उद्देश्यों के बारे मे जानकारी दी। समाज के वंचित वर्ग को समाज की मुख्यधारा से जोडक़र रखना ही सेवा भारती का मुख्यकार्य है। सेवा भारती पूरे देश मे सेवा कार्य करती है! इस अवसर पर कृष्ण हांसी नगर संघ चालक आर.एस.एस. ने भी अपने विचार रखे। डा. रंजीत सिंह सैनी ने सेवा भारती की पूरी कार्यकारणी को पूर्ण रूप से सेवा कार्य मे लगने का आहवान किया।अन्त में जिला उपाध्यक्ष प्रेम चुघ ने बताया की हांसी नगर मे माधव योग केंद्र राम धर्मशाला जगदीश कॉलोनी हांसी मे सुबह 5.30 से 6.30 तक प्रतिदिन चलता है! प्यारेलाल जी सैनी सभी को योग सिखाते हंै। हांसी नगर मे महिलाओ के लिये निशूल्क सिलाई केंद्र भी चल रहा है जो अभी कोरोना वायरस के कारण बन्द है।

हिसार में टिड्डी दल ने दी दस्‍तक, डिप्टी स्पीकर ने किया विभिन्न गांवों का दौरा

सिटी फर्स्ट न्यूज़, हिसार:

राजस्थान की सीमा से सटे जिला के कुछ गांवों में टिड्डी दल के आने की सूचनाओं को लेकर डिप्टी स्पीकर रणबीर सिंह गंगवा ने  मंगलवार को क्षेत्र के कई गांवों का दौरा किया और किसानों से बातचीत कर सारी स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने बासड़ा, गोरछी, चौधरीवास आदि गांवों का दौरा कर वहां आई टिड्डी की स्थिति को बारीकी से देखा एवं किसानों के खेतों पर जाकर उनकी फसलों का जायजा लिया। उन्होंने कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप निदेशक विनोद फोगाट से बात की और टिड्डी नियंत्रण दल के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जहां पर रात में टिड्डी दल का पड़ाव होता है उस स्थिति पर पूरी तरह नजर रखते हुए स्तिथि पर नियंत्रण करें।डिप्टी स्पीकर ने इस अवसर पर हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों से भी बात की और उन्हें टिड्डी समस्या का समाधान निकालने  की दिशा में ठोस प्रयास करने के निर्देश दिए। उन्होंने किसानों को विश्वास दिलाया कि उनकी फसलों  का कोई नुकसान नहीं होने दिया जाएगा। जिला में टिड्डी नियंत्रण को लेकर विभिन्न विभागों की टीमें पहले से ही गठित हैं जो सारी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि यदि टिड्डी से फसलों को नुकसान होता है तो कृषि एवं राजस्व विभाग की टीम द्वारा सर्वे शीघ्र करवाया जाएगा। उन्होंने किसानों से भी आग्रह किया है कि वे टिड्डी दल पड़ाव की सूचना तत्काल ही कृषि विभाग के अधिकारियों एवं टिड्डी नियंत्रण दल को दें। डिप्टी स्पीकर रणवीर गंगवा ने क्षेत्र के सभी किसानों से भी यह आह्वान किया कि वे अपने स्तर पर ढोल, ड्रम, थाली या अन्य किसी माध्यम से तेज आवाज उत्पन्न कर टिड्डी दल को फसलों पर पड़ाव डालने से रोक सकते हैं।कृषि अधिकारियों ने डिप्टी स्पीकर को अवगत करवाया कि टिड्डिïयों का यह दल एक गुणा एक किलोमीटर क्षेत्र के व्यास का है और यह राजस्थान के भारिया बोर्डर से हरियाणा के सरसाना व बासड़ा गांवों में आया है। उन्होंने बताया कि प्रशासन की टीमें और ग्राम स्तर पर गठित कमेटियां टिड्डïी दल की गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं और सायं के समय यह जहां भी अपना पड़ाव डालेगा, वहां कीटनाशक के छिडक़ाव से इसे खत्म करने का अभियान चलाया जाएगा।

एसपी व एसडीएम ने लघु सचिवालय में किया पौधारोपण

आमजन को दिया ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण करने का संदेश

सिटी फर्स्ट न्यूज़ ,हांसी :
पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह व एसडीएम डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज लघु सचिवालय परिसर में पौधारोपण किया। इसके माध्यम से उन्होंने अधिक से अधिक लोगों को पौधारोपण करके पर्यावरण संरक्षण की दिशा में जागरूक होने का आह्वïान किया। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि हम सब पेड़ों के महत्व को समझते हैं और अपने दैनिक जीवन में वृक्षों से बनी वस्तुओं का उपयोग करते हैं लेकिन हम में से बहुत कम लोग पौधे लगाने की जिम्मेदारी निभाते हैं। यदि हर व्यक्ति प्रतिवर्ष एक पौधा भी लगाए तो पर्यावरण को बिगडऩे से बचाया जा सकता है।
एसडीएम डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि वन विभाग की ओर से उपमंडल में इस मानसून सीजन में अधिक से अधिक पौधे लगाने का अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार व प्रशासन के साथ यदि आमजन भी पौधारोपण के कार्य में लग जाए तो पृथ्वी को हरा-भरा बनने से कोई नहीं रोक सकता है। उन्होंने कहा कि पौधे लगाकर उनकी देखभाल करना भी बहुत आवश्यक है। हमें पौधारोपण व बाद में इनका संरक्षण दोनों की ओर ध्यान देना चाहिए। इस अवसर पर डीएसपी विनोद शंकर व पवन रेंजर सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत आए तो तुरंत चेकअप करवाएं : उपायुक्त

सिटी फर्स्ट न्यूज़ हिसार:
उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि जिला में कोरोना से निपटने और कोरोना मरीजों के इलाज के लिए समुचित व्यवस्था की गई है। यदि किसी व्यक्ति को बुखार, जुकाम, खांसी है या उसकी सूंघने की शक्ति खत्म हो गई है तो वह तुरंत स्वास्थ्य विभाग से संपर्क करे और नागरिक अस्पताल पहुंचकर अपना सैंपल देकर कोरोना जांच करवाएं। उपायुक्त ने कहा कि कोरोना से बचकर रहना ही इसका सर्वोत्तम इलाज है। यदि जरूरी न हो तो घरों से बाहर निकलने से परहेज करें और दूसरों के संपर्क में आने से बचें। यदि बाहर निकलना भी पड़े तो मुंह पर मास्क जरूर लगाएं। मास्क लगाने से कोरोना संक्रमण से बचने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं। मास्क न लगाने पर 500 रुपये के जुर्माने का भी प्रावधान है। इसलिए घर से बाहर, कार्यस्थल अथवा सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का इस्तेमाल अवश्य करें। इसके अलावा बार-बार साबुन अथवा एल्कोहल युक्त सेनिटाइजर से हाथ धोने से भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सकता है।उन्होंने कहा कि कोरोना का इलाज संभव है लेकिन यदि हम लापरवाही बरतते हैं और इसकी शुरूआती अवस्था में ही इलाज शुरू नहीं करवाते हैं तो यह जानलेवा हो सकता है। कोरोना का वायरस पहले गले में पहुंचकर वहां अवरोध प्रकट करता है और धीरे-धीरे यह सांस लेने में समस्या पैदा कर देता है। इसके अलावा यदि यह फेफड़ों में पहुंच जाता है तो और भी अधिक घातक होता है। वायरस का हमला होते ही तुरंत इसकी जांच व इलाज शुरू कर दिया जाए तो मरीज  को आसानी से ठीक किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमें अपने आसपास ऐसे लोगों पर भी नजर रखनी चाहिए जो दिल्ली-मुंबई या अन्य किसी हॉट-स्पॉट राज्य अथवा जिलों से आए हों। ऐसे व्यक्तियों का तुरंत सैंपल लेना आवश्यक होता है ताकि इनके कारण इनके परिजनों व आस-पड़ोस के लोगों में संक्रमण न फैले। उन्होंने कहा कि महामारी अधिनियम के अंतर्गत बाहर से आने वाले व्यक्तियों को अपनी सूचना स्वयं स्वास्थ्य विभाग को देनी होती है। ऐसा न करने पर इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि जिलावासी ऐसे व्यक्तियों की सूचना स्वास्थ्य विभाग या जिला प्रशासन को जरूर दें जो बाहर से आए हों लेकिन जिन्होंने अभी तक अपना कोरोना टेस्ट नहीं करवाया हो।

महिला सशक्तिकरण को लेकर सरकार का बड़ा कदम, उत्कृष्ट काम करने वाली महिला पंच-सरपंचों को मिलेगी स्कूटी: डिप्टी सीएम

सिटी फर्स्ट न्यूज़ ,चंडीगढ़:

प्रदेश में पंचायती राज में महिलाओं की भूमिका को अधिक सशक्त बनाने और उन्हें प्रोत्साहित करने को लेकर प्रदेश सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। जेजेपी-बीजेपी गठबंधन सरकार प्रदेश की उन महिलाओं को स्कूटी देगी, जिन्होंने पंचायती राज में बतौर जनप्रतिनिधि श्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। प्रदेश सरकार ऐसी  टॉप-100 महिला पंच-सरपंच, जिला परिषद और ब्लॉक समिति सदस्यों की सूचि बना रही है जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में बेहतर काम किया है।

विकास एवं पंचायत विभाग का जिम्मा संभाल रहे प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश की पंचायती राज संस्थाओं में शैक्षणिक योग्यता की शर्तें लगाने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कार्यों की गुणवत्ता बढ़ी है। उन्होंने बताया कि जिला परिषद, ब्लॉक समिति व पंचायत स्तर पर अपने-अपने गांव या वार्ड में कई महिला प्रतिनिधियों ने उल्लेखनीय कार्य किया है। इनमें से टॉप-100 कार्य करने वाली महिलाओं को इसी माह राज्य सरकार द्वारा कॉरपोरेट सोशल रिस्पोंशिबिलिटी (सीएसआर) के तहत होंडा कंपनी की 100 स्कूटी देकर सम्मानित किया जाएगा।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं में सरकार महिलाओं की भूमिका को अधिक सुदृढ़ करने व समाज में उनकी भागीदारी को बढ़ाने की दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने बताया कि गंठबधन सरकार पंचायतों में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देने पर विचार कर रही है और इसके लिए सभी से फीडबैक लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार की दोनों पार्टियां अपने-अपने विधायक दलों की बैठक में इस विषय पर चर्चा कर चुकी हैं। उन्होंने कहा कि अलग-अलग समाज के लोगों के सुझावों के बाद सरकार इस बारे में अंतिम निर्णय लेगी।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पंचायतों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ने से निश्चित तौर पर इसके बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे। उन्होंने गांवों में महिला सरपंचों द्वारा करवाये जा रहे विकास कार्यों की सराहना की। उन्होंने बताया कि महिला सरपंच गांवों में विकास कार्य करवाकर अपने गांव को एक रोल-मॉडल के तौर पर उभारने का कार्य कर रही हैं। उन्होंने बेहतर काम करने वाली पंचायतों का उदाहरण देते हुए कहा कि नया गांव में बायोगैस प्लांट स्थापित करना, सिरसी को हरियाणा का पहला लाल डोरा मुक्त बनाना बड़े कदम हैं। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि देश के 28 में से 20 राज्यों की पंचायतों में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान कर रखा है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस दिशा में हरियाणा भी आगे बढ़ेगा तो यह एक पंचायती राज संस्थाओं को मजबूत करने के लिए दूरदर्शी कदम होगा।

शादी समारोह में मेहमानों की संख्या की जांच करेंगे अधिकारी, 50 से ज्यादा मेहमान हुए तो होगी सख्त कार्रवाई 

उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने  मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल के मालिकों व प्रबंधकों को पत्र लिखकर दिए निर्देश

सिटी फर्स्ट न्यूज़ ,हिसार :
उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि कोरोना संक्रमण पर रोक के लिए विवाह समारोह में 50 से कम मेहमानों की भागीदारी के नियम की सख्त अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए अधिकारी विवाह समारोहों में पहुंचकर मेहमानों की संख्या की जांच करें। विवाह समारोह के लिए संबंधित एसडीएम से अनुमति लेना व नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा।
समारोह में मेहमानों की संख्या के नियम की अनुपालना के लिए उपायुक्त ने हिसार व हांसी के पुलिस अधीक्षकों, सभी एसडीएम तथा जिला के सभी इंसीडेंट कमाडर को आवश्यक हिदायतें जारी की हैं। इस नियम की अक्षरशः अनुपालना सुनिश्चित करवाने के लिए उन्होंने सभी मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल के मालिकों तथा मैनेजरों को भी कड़े निर्देश जारी किए हैं।
उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविड-19 को महामारी घोषित किया हुआ है। इस रोग के संक्रमण पर रोक के लिए हरियाणा सरकार के शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने मैरिज पैलेस, बैंक्वेट हॉल या अन्य किसी भी स्थान पर आयोजित होने वाले विवाह समारोहों में 50 से अधिक मेहमानों के शामिल होने पर प्रतिबंध लागू किया है।
उन्होंने बताया कि मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल में विवाह समारोह के लिए संबंधित व्यक्ति द्वारा जिला प्रशासन से अनुमति लेनी भी अनिवार्य है। इसके लिए संबंधित उपमंडल के एसडीएम को मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल में विवाह समारोह की अनुमति देने के लिए अधीकृत किया गया है। विवाह समारोह में शामिल मेहमानों व मेजबानों द्वारा अन्य आवश्यक नियमों व सावधानियों का अनुपालन करना भी आवश्यक है।
उपायुक्त ने बताया कि पिछले दिनों अलग-अलग स्थानों पर ऐसे मामले देखे गए जहां विवाह समारोह में न केवल 50 से अधिक मेहमान शामिल हुए बल्कि नियमों की भी अनदेखी भी की गई। ऐसी परिस्थितियों में कोरोना संक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है।
उन्होंने बताया कि प्रशासन ने इस नियम की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए कड़ाई बरतने का निर्णय लिया है। इसके लिए सभी मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल के मालिकों व प्रबंधकों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि उनके परिसर में आयोजित होने वाले विवाह समारोह में 50 से अधिक मेहमान भागीदारी न करें। इसके साथ ही वे स्वयं व आयोजक सामाजिक दूरी बनाए रखने, मास्क लगाने, हाथ धोने जैसे सभी नियमों की समुचित अनुपालना भी सुनिश्चित करें। ऐसा न करने पर उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।
उपायुक्त ने हिसार व हांसी के पुलिस अधीक्षकों तथा सभी एसडीएम को भी इस नियम की अनुपालना सुनिश्चित करवाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। उन्होंने जिला में तैनात सभी इंसीडेंट कमांडर्स को निर्देश दिए हैं कि वे मैरिज पैलेस व बैंक्वेट हॉल का नियमित रूप से दौरा करें और यह सुनिश्चित करें कि समारोह में 50 से अधिक मेहमानों की भागीदारी न हो। इंसीडेंट कमांडर इन आदेशों की अनुपालना के लिए की गई प्रतिदिन की कार्रवाई की रिपोर्ट भी एसडीएम के माध्यम से उपायुक्त को भिजवाएंगे।

वाहन चोर गिरोह से 8 चोरी की बाइक बरामद, कई जिलों में वाहन चोरों ने पसार रखे थे पांव

सिटी फर्स्ट न्यूज़ ,हांसी:

एंटी व्हीकल थैफ्ट टीम ने रिमांड पर चल रहे चार वाहन चोरों की निशानदेही पर 6 और मोटरसाइकिलें बरामद की हैं। पुलिस अब तक वाहन चोर गिरोह से आठ बाइक बरामद कर चुकी हैं। वहीं, अब मिर्चपुर चौकी पुलिस ने चारों आरोपितों को एक दिन के रिमांड पर लिया है। आरोप है कि इन्हीं शातिर बाइक चोरों ने ही 5 जुलाई को मिर्चपुर के पास बाला जी ईंट भट्टे से मोटरसाइकिल चुराई थी। रिमांड के दौरान पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि चारों आपस में दोस्त हैं। आरोपित मोनू का सिसाय गांव में ननिहाल है और यहीं आने जाने के दौरान उसकी सत्यवान व राकेश से दोस्त हुई। मोनू पेंटर है और सत्यवान राजमिस्त्री का काम करता है व एक अन्य आरोपित निजी बसों में कंडक्टरी करता है। चारों ने मिलकर वाहन चोरी कर पैसे कमाने का प्लान बनाया और एक के बाद एक कई चोरी की वारदातों को अंजाम दे दिया। मोनू व सत्यवान पर पहले भी दो अन्य जगहों पर चोरी के मामले दर्ज हैं। पुलिस प्रवक्ता सुभाष शर्मा ने बताया कि जींद चुंगी से मोनू व दीपक से चोरी की मोटरसाइकिल सहित गिरफ्तार किया था। दोनों आरोपितों से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने सिसाय गांव निवासी सत्यवान व राकेश को भी गिरफ्तार किया था। चारों आरोपितों से पुलिस रिमांड के दौरान एवीटी टीम ने पूछताछ के आधार पर छह मोटरसाइकिलें बरामद की हैं। उन्होंने बताया कि रिमांड के दौरान जो छह बाइक बरामद हुई हैं उनमें से 1 गर्ग अस्पताल, 1 गांव निर्जन जिला जींद व एक-एक  मोटरसाइकिल जुलाना, जींद, झज्जर, फरीदाबाद, हिसार  मिर्चपुर से चोरी की गई थी। अभी मिर्चपुर चौकी की पुलिस को आरोपितों का एक दिन का रिमांड और मिला है। रिमांड के दौरान पुलिस अन्य वारदातों में संलिप्तता के बारे में सबूत जुटाएगी।

सस्ते दामों पर बेच देते बाइक
बाइक चोरों ने बताया कि वह किसी भी शहर में सड़क पर खड़ी बाइक को मास्टर चाबी लगा चोरी करते थे। अगर बाइक का तेल खत्म हो जाता तो वहीं छोड़कर फरार हो जाते। चोरी की बाइक को वह बेहद बेहद सस्ते 8 से 10 हजार रुपये में बेच देते थे। पुलिस अब मामले में गहन पूछताछ कर रही है कि आखिर ये बाइकों के दस्तावेज कैसे तैयार करवाते थे।

error: Content is protected !!