हांसी को पूर्ण रूप से जिला बनाने के लिये दिया एक दिन का सांकेतिक धरना (Video)

सिटी फर्स्ट न्यूज़ हांसी ,
हांसी को जिला बनाने की मांग को लेकर शहर के लोगों ने हांसी जिला बनाओ संघर्ष समिति के बैनर तले फिर से संघर्ष को तेज कर दिया है। बुधवार को शहर के विभिन्न सामाजिक, धार्मिक संगठनों के अलावा अनेक यूनियनों ने जिला बनाओ संघर्ष समिति के साथ स्थानीय बड़सी गेट पर एक दिन का सांकेतिक धरना दिया। इस दौरान शहर के लोगों ने भी संघर्ष समिति के समर्थन में धरनास्थल पर पहुंचकर अपना समर्थन दिया। हांसी को जिला बनाने के लिए संघर्ष कर रहे समिति अध्यक्ष रामनिवास फौजी ने कहा कि पूरे शहर के लोगों ने हांसी को जिला बनाने के लिए एक बार फिर से शंखनाद कर दिया है व हमारा संघर्ष हांसी को जिला बनाकर ही दम लेगा। उन्होंने कहा कि शहर के विभिन्न संगठनों का उन्हें समर्थन मिल रहा है व शहर के सभी लोग एक सुर में हांसी को जिला बनाने की मांग कर रहे है। उन्होंने कहा कि सरकार तक अपनी मांग पहुंचाने के लिए संघर्ष समिति व शहर के अनेकों संगठन एक दिन के सांकेतिक धरने पर बैठे है। धरने पर शहर की महिलाओं ने भी काफी संख्या में पहुंचकर हांसी को जिला बनाने की मांग का समर्थन किया।

आंगनबाड़ी वर्कर यूनियन व मिड-डे-मील वर्कर यूनियन ने फूंका वित्त मंत्री का पुतला

सिटी फर्स्ट न्यूज़ हांसी ,

आंगनवाडी वर्कर यूनियन ने अपनी मांगों को लेकर वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के पुतले की शव यात्रा निकाली और प्रदर्शन करते हुए जाट धर्मशाला के नजदीक वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के पुतले को फूंका और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया आंगनवाड़ी वर्करों का कहना है कि पिछले कई दिनों से लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन सरकार उनकी मांगों को मानने को तैयार नहीं है आंगनवाड़ी वर्करों का कहना है कि जब तक हमारी सारी मांगे नहीं मानी जाती तब तक हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा

विरोधी गुट को मंत्री ग्रोवर का दो टुक जवाब 2021 तक हांसी नगर परिषद में रहेगी भाजपा की चेयरपर्सन

सिटी फर्स्ट न्यूज़ हांसी ,

नगर परिषद चेयरपर्सन के विरोधी गुट द्वारा चेयरपर्सन को हटाने को लेकर चलाई जा रही मुहिम पर शुक्रवार को सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर ने करारा जवाब देते हुए कहा की हांसी नगर परिषद चेयरपर्सन भाजपा की है और 2021 तक भाजपा चेयरपर्सन ही रहेगी। यह बातें उन्होने विश्राम गृह में शुक्रवार देर शाम पत्रकार वार्ता के दौरान कही। उन्होने कहा कि पार्षदों के साथ हुई मिटिंग में मण्डल प्रघान व चेयरपर्सन को हर महिने हाऊस की की बैठक बुलाने व शहर का विकास करवाने के आदेश दिये है और जल्द ही आपको शहर में विकास कार्य होते हुए दिखाई देगें। उन्होने कहा कि 2019 तक आपको शहर का नक्शा बदला हुआ नजर आएगा।

साथ ही उन्होने शहर के हर वार्ड में समान विकास करवाने की बात कही। उन्होने कहा की उनकी पार्टी सबका साथ सबका विकास के एजेंडे पर काम करेगी। और विकास कार्य में किसी भी वार्ड के साथ भेदभाव नही किया जाएगा। जब उनसे विरोधी गुट के पार्षदों द्वारा मिटिंग में भाग नही लेने बारे पुछा गया तो उन्होने कहा की मिटिंग में नही आने का कारण वे पार्षद ही बता सकते हैं। उन्होने कहा की हर महिने होने वाली बैठक में सभी पार्षद भी नजर आएगें। उनसे से जब नगर परिषद में स्टॉफ की कमी व अधिकारियों द्वारा विरोधी गुट के पार्षदों के साथ मिलकर विकास कार्य में रोड़ा अटकाने व विकास कार्य नही करवाए जाने के बारें में पुछा गया तो उन्होने कहा कि आप एक महिने का इंतजार कीजिये आपको यही अधिकारी कार्य करते हुए नजर आएगें। उन्होने बताया की अधिकारियो की मिटिंग में सीएम द्वारा की गई घोषणा के कार्यो की समीक्षा की गई है। और अधिकारियों द्वारा उन्हे बताया गया है कि सीएम घोषणा के करीब 70 प्रतिशत कार्य हो चुके हैं। उन्होने कहा कि सभी अधिकारियों को आदेश दिये गए है कि सीएम घोषणा के सभी कार्यो को तुरन्त पुरा करवाएं। अधिकारियों के सीट पर ना बैठने के सवाल के जवाब मे उन्होने कहा कि 2-4 दिन बाद आप कार्यालयों में जाकर देखे आपको सभी कर्मचारी सीटों पर बैठे मिलेगें। उन्होने कहा कि अब तक हांसी के विकास कार्यो में जा कमी रह गई है। आने वाले समय में सभी वार्डो के विकास कार्य पुरे करवाए जाएगें। उन्होने दावा किया की 2019 तक शहर मे सीवर, पानी, सफाई व कोई सडक़ नही बचेगी। सभी समस्याओं का निराकरण करवाया जाएगा।

आपकों यह बतादें कि नगर परिषद में पार्षदों के बीच चल रही खिंचताने को लेकर सहकारिता राज्य मंत्री मनिष ग्रोवर द्वारा बुलाई गई थी। परन्तु राज्य मंत्री द्वारा बुलाई गई मिटिंग मे विरोधी गुट का एक भी पार्षद मिटिंग में भाग लेने के लिए विश्राम गृह नही पहुंचा।

भट्ठा मालिक की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसपी से मिले ,एसपी ने कहा सुसाइड नोट की हैंडराइटिंग रिपोर्ट आने दो

सिटी फर्स्ट न्यूज़ हांसी ,
उपमंडल के गांव कुलाना में एक सप्ताह पहले युवा कांग्रेस के हलका प्रधान राजेश घोड़ेला के पिता रतिराम द्वारा आत्महत्या करने के उपरांत एक सप्ताह बाद भी आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले भट्ठा मालिक को गिरफ्तार न किए जाने पर रोषित रतिराम के परिजनों व कुलाना गांव के ग्रामीणों ने बुधवार को एसपी प्रतीक्षा गोदारा से मुलाकात की और आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले भट्ठा मालिक प्रवीण गर्ग उर्फ गौरा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसपी प्रतीक्षा गोदारा को ज्ञापन सौंपा। राजेश घोड़ेला ने बताया कि उसके पिता रतिराम पिछले 31 वर्षों से श्याम बाबा भट्ठा उद्योग पर मुंशी का काम करते थे। भट्ठा मालिक प्रवीण गर्ग उर्फ गौरा द्वारा मानसिक रूप से प्रताडि़त करने पर उसके पिता ने 15 फरवरी को भट्ठे के समीप ही खेतों में आत्महत्या कर ली थी। उसके बाद पुलिस ने उसके पिता की जेब से पुलिस ने ढाई पेज का सुसाइड नोट भी बरामद किया था जिसमें उन्होंने अपनी मौत का जिम्मेवार भट्ठा मालिक को ठहराया था। जिसके बाद पुलिस ने राजेश घोड़ेला की शिकायत पर प्रवीण गर्ग उर्फ गौरा के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने की धारा 306 के तहत मामला दर्ज कर लिया था। परंतु एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी पुलिस ने आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले आरोपी भट्ठा मालिक को गिरफ्तार नहीं किया है। एसपी कार्यालय पहुंचे मृतक रतिराम घोड़ेला के परिजनों व कुलाना गांव के ग्रामीणों ने एसपी को तुरंत प्रभाव से आत्महत्या के लिए मजबूर करने आरोपी प्रवीण गर्ग को गिरफ्तार करने की मांग की है। वहीं एसपी प्रतीक्षा गोदारा ने कहा कि मृतक द्वारा छोड़े गये सुसाइड नोट को हैंडराइटिंग की जांच के लिए लैब में भेजा गया है और साक्ष्य आने पर ही आगे की कारवाही की जायेगी

इनसो का धरना खत्म, सरकार ने की छात्र संघ के चुनावों की घोषणा

सिटी फर्स्ट न्यूज़ हिसार ,
 इनसो के पांच दिन के लंबे संघर्ष के बाद आखिर खट्टर सरकार बैक फुट पर आ गई और छात्र नेताओं के अनशन के आगे घुटने टेकते हुए छात्र संघ चुनाव करवाने की सभी आठों मांगे मान ली है। लिखित आश्वासन के बाद अनशन पर बैठे  दिग्विजय सिंह चौटाला सहित सात छात्र नेताओं ने अपना अनशन समाप्त कर दिया। गुजवि के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार की और से देर शाम को लिखित पत्र सांसद  दुष्यत चौटाला को सौपा गया। इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कुलपति द्वारा दिए गए लिखित पत्र धरने पर बैठे छात्रों को पढ कर सुनाया। प्रदेश के मुख्य सचिव की ओर से भेजे गए पत्र को से गुजवि के कुलपति डॉ टंकेश्वर कुमार छात्र संघ चुनाव की सभी शर्ते लिखित रूप में स्वीकारने की प्रति अनशनकारियों को सौंपी। हरियाणा सरकार ने इनसो की मांगों को मानते हुए कहा कि सितम्बर 2018 में छात्र संघ चुनाव लिंगदोह कमेटी और पंजाब व दिल्ली के पैटर्न के अनुसार करवाये जाएंगे।

जेल से बाहर आने के बाद विकास बराला ने जारी की वीडियो, खुद को बताया पीड़ित

error: Content is protected !!